Students की Success के लिए Chanakya Neeti in Hindi की 8 बाते

0
207
Chanakya Neeti in Hindi

जीवन में, हम हमेशा सीख रहे हैं और हम सभी Students हैं. दोस्तों आज हम आचार्य Chanakya Neeti in Hindi की 8 बाते को जानेंगे. जो Students के लिए कुछ बहुत ही उपयोगी और आश्चर्यजनक नीतियों का वर्णन करती है. इन नीतियों का पालन करने से, कोई भी Students सही तरीके से और सही ढंग से शिक्षा प्राप्त करने में Success हो सकता है. और अपने जीवन में हर बड़ी से बड़ी उपलब्धि को हासिल करने की क्षमता हासिल कर सकता है.

आज मैं आपको इन नीतियों के बारे में Detail में बताऊंगा. ताकि आप उन्हें अच्छे से समझ सकें और उन्हें अपनाकर आप अपने जीवन में एक बड़ा बदलाव ला सकते हैं. तो चलिए दोस्तों जानते है Chanakya Neeti in Hindi के इस मंत्र से –

कामक्रोधौ तथा लोभं स्वायु श्रृड्गारकौतुरके।अतिनिद्रातिसेवे च विद्यार्थी ह्मष्ट वर्जयेत्।।

जिसका अर्थ है, छात्र को इन 8 चीजों का त्याग करना चाहिए:

  1. काम,
  2. क्रोध
  3. लालच
  4. स्वादिष्ट सामग्री या भोजन
  5. मेकअप
  6. मज़ाक मस्ती
  7. अधिक नींद
  8. अपना शरीर सवारने में समय व्यर्थ न करे

इन Chanakya Neeti की 8 चीजों का त्याग करके ही कोई भी Student अपने जीवन में Success पा सकता है. आइए अब Chanakya Neeti in Hindi की इन 8 बातो के बारे में कुछ detail से जानते हैं ताकि आप उन्हें ठीक से समझ सकें

1. काम भावनाओं से बचें

जिस व्यक्ति के मन में काम भावना या संवेदना होती है. वह हर समय अशांत रहने लगता है। ऐसा व्यक्ति अपनी इच्छाओं को पूरा करने के लिए कोई भी सही या गलत तरीका अपना सकता है. यदि कोई Student काम की लालसा में पद जाता है. तो वह पढ़ाई छोड़ देता है और अन्य कार्यों के लिए आकर्षित होता है. उसका सारा ध्यान केवल अपनी वासना की पूर्ति की ओर केंद्रित हो जाता है और वह पढ़ाई से बहुत दूर हो जाता है. इसलिए छात्रों को ऐसी भावनाओं से बचना चाहिए.

2. गुस्सा न करने की कोशिश करें

गुस्से में एक व्यक्ति अंधा हो जाता है और वो नहीं पहचानता है. कि क्या सही और गलत है. एक व्यक्ति जोकि स्वभाव से गुस्सा है. वो छोटी से छोटी बात पर भी गुस्सा हो जाता है. कुछ ऐसा करता है कि उसे बाद में पछतावा होता है, गुस्सा करने वाला व्यक्ति अपना आप खो बैठता है और किसी का भी बुरा कर बैठता है.

ऐसे स्वभाव का व्यक्ति कभी शांत नहीं रहता. ज्ञान पाने के लिए दिमाग का शांत और सुस्त होना बहुत जरूरी है. बेचैन मन से सीखने पर, एक व्यक्ति केवल उस ज्ञान को सुनता है, पर उसे कभी नहीं समझता है और वो कभी उसका पालन नहीं कर सकता है. इसलिए, शिक्षा प्राप्त करने के लिए, एक व्यक्ति के लिए अपने स्वभाव को नियंत्रित करना बहुत महत्वपूर्ण है.

3. किसी को देख कर लोभ न करे

लालच एक बुरी चीज है, हम सभी ने सुना और पढ़ा है. लालची व्यक्ति अपने लाभ के लिए किसी का भी इस्तेमाल कर सकता है और किसी को भी धोखा दे सकता है. ऐसे लोग सही और गलत के बारे में बिल्कुल नहीं सोचते हैं. वह व्यक्ति जिसके पास वस्तु या अन्य को पाने की भावना है और वह हमेशा उसे प्राप्त करने की योजना बनता रहता है. ऐसा व्यक्ति कभी भी कुछ सीखने के प्रति सजग नहीं हो सकता है और अपना सारा समय अपने लालच को पूरा करने में लगाता है. छात्रों को अपने मन में लालच को कभी नहीं आने देना चाहिए.

4. हमेशा स्वादिष्ठ भोजन का लालच न करे

एक व्यक्ति जिसकी जीभ उसके नियंत्रण में नहीं है. वह हमेशा स्वादिष्ट व्यंजनों की तलाश में रहता है. ऐसा व्यक्ति, अन्य चीजों के अलावा, केवल भोजन को सबसे अधिक महत्व देता है. कई बार, स्वादिष्ट व्यंजनों के स्वाद के कारण, एक व्यक्ति अपने स्वास्थ्य के साथ समझौता करता है. छात्र को अपनी जीभ पर नियंत्रण रखना चाहिए ताकि वह अपने स्वास्थ्य और शिक्षा दोनों का ध्यान रख सके

5. मेकअप करने के लिए ज्यादा समय न दें

जिस छात्र का मन साज सवरने में लगा होता है. वह अपना ज्यादातर समय इन्हीं चीजों में बिताता है. ऐसे लोग हर समय खुद को सबसे सुंदर और अलग दिखाने के लिए कड़ी मेहनत करते रहते हैं और यही कारण है कि सुंदरता, अच्छी पोशाक और अच्छा दीखते रहने की आदतों से जुड़ी चीजें उनके दिमाग में घूमती रहती हैं. एक व्यक्ति जो व्यक्ति साज सवरने के बारे में सोचता है. वह कभी भी एक जगह पर ध्यान केंद्रित करके शिक्षा को प्राप्त नहीं करता. छात्र को ऐसी स्थितियों से बचना चाहिए.

6. हंसी मजाक करने में समय बर्बाद न करें

एक अच्छे छात्र का सबसे महत्वपूर्ण गुण गंभीरता है. Student को जीवन में शिक्षा और सफलता पाने के लिए इस गुण को अपनाना बहुत जरूरी है. एक छात्र जो अपना सारा समय मजाक में बर्बाद करता है उसे कभी सफलता नहीं मिलती है. ज्ञान पाने के लिए दिमाग का होना बहुत जरूरी है और जो छात्र हंसी मजाक कर रहा है वह कभी भी अपने दिमाग को स्थिर नहीं रख पाता है.

7. जरूरत से ज्यादा सोने से बचें

स्वस्थ व्यक्ति के लिए आमतौर पर 7-8 घंटे की नींद काफी है. Students को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वे अत्यधिक नींद से बचें. अत्यधिक नींद हमेशा शरीर में थकान का कारण बनती है और अगर शरीर थका हुआ है. तो ध्यान केंद्रित करना मुश्किल हो जाता है, और मन को अध्ययन के लिए केंद्रित करना बहुत महत्वपूर्ण है.

Conclusion – Chanakya Neeti in Hindi की 8 बाते

तो दोस्तों ये थी आचार्य Chanakya Neeti in Hindi की 8 बाते. इन नीतियों को अपनाकर हर छात्र अपने सपनों को साकार कर सकता है. दोस्तों में काफी समय से सोच रहा था की Students की Lifestyle से जुडी एक नयी Category बनायीं जाए. जहा हर कोई कुछ न कुछ अपनी Life के बारे में सिख सके और आगे बढ़ सके. तो इसलिय आज में आपके लिए Chanakya Neeti की 8 बाते लेके आया दोस्तों में आशा करता हु आपको ये नयी Category भी पसंद आएगी इसके अलावा अगर आप इस किसी ब्लॉग से Related कुछ सवाल पूछना चाहे तो मुझे निचे comment जरुरु करे. धन्यवाद / जय हिन्द

 ये भी देखे

What is Meditation in Hindi (ध्यान क्या है)

Meditation in English

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here